Call us now: (+91) 94135 68044

 Bank PO & Clerk New Batch Started.............................................................. Delhi / Rajasthan Police New Batch Started............................................................ BANK CLERK (9 : 00 AM to 01 : 00 PM) ..............................................................REET I & II LEVEL (12 : 30 PM to 05 : 30 PM).............................................................. Our site is currently under processing and updating . We will update all notes soon . Thank you

 

Current Affairs 01 - 02 August 2016

RBI-Bank-License-2016

1) भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) ने बैंक लाइसेंसों (Bank Licences) के सम्बन्ध में अपने अंतिम दिशानिर्देश (Final Guidelines) 1 अगस्त 2016 को जारी कर दिए। इन दिशानिर्देशों में उल्लिखित सर्वाधिक महत्वपूर्ण तथ्य क्या है? – अब सार्वभौमिक बैंक लाइसेंस (Universal bank licences) कभी भी प्रदान किए जा सकेंगे

विस्तार: RBI ने 1 अगस्त 2016 को बैंक लाइसेंसों से सम्बन्धित अपने दिशानिर्देश अपने अंतिम स्वरूप में जारी कर दिए। इनके अनुसार अब गैर-बैंकिंग वित्तीय कम्पनियाँ (non-banking financial companies – NBFCs), बैंकिंग क्षेत्र के क्वालिफाइड पेशेवर (qualified individuals) तथा कुछ निजी कम्पनियाँ जब चाहें बैंक लाइसेंस हासिल करने के लिए आवेदन कर सकेंगी। इस व्यवस्था को ऑन-टैप लाइसेंस व्यवस्था (on-tap licence system) के नाम से जाना जाता है। वहीं बड़े औद्यौगिक घरानों के बैंकिंग क्षेत्र में प्रवेश पर RBI ने रोक लगाने की बार भी कही है।

 उल्लेखनीय है कि इस दिशानिर्देशों से सम्बन्धित मसौदा दिशानिर्देश (draft guidelines) RBI ने 6 मई 2016 को जारी किया था।

 बैंक लाइसेंसों के लिए आवेदन करने के लिए ऐसी NBFCs को अनुमति प्रदान की गई है जिनका प्रबन्धन भारतीयों के हाथ में हो तथा जिनके पास संचालन का कम से कम 10 वर्ष का अनुभव हो। लेकिन ऐसे NBFCs को आवेदन की अनुमति नहीं होगी जिनमें बड़े औद्यौगिक घरानों की हिस्सेदारी हो तथा इसमें से 40% से अधिक परिसम्पत्तियाँ गैर-वित्तीय व्यवसाय से सम्बन्धित हों।

 इसके अलावा व्यक्तिगत पेशेवर भी लाइसेंस के लिए आवेदन कर सकेंगे लेकिन उनके पास बैंकिंग क्षेत्र का 10 वर्ष से अधिक का अनुभव होना चाहिए।

…………………………………………………………

2) भारत में गृह-वित्त के क्षेत्र में संलग्न सबसे बड़े निजी उपक्रम HDFC ने 1 अगस्त 2016 को एक नया मुकाम हासिल किया जब उसने दुनिया में अपनी तरह के पहले बाण्ड्स को लंदन स्टॉक एक्सचेंज (LSE) में जारी किया जिसका मूल्यवर्ग (Denomination) भारतीय रुपए है तथा इसमें विदेशी निवेशक निवेश कर सकेंगे। इस विशिष्ट प्रकार के बाण्ड को क्या लोकप्रिय नाम दिया गया है? – मसाला बाण्ड्स (Masala Bonds)

विस्तार: हाउसिंग डेवलपमेण्ट फाइनेंस कॉरपोरेशन (HDFC) इस प्रकार के मसाला बाण्ड्स (Masala Bonds) को जारी करने वाला दुनिया का पहला उपक्रम 1 अगस्त 2016 को बन गया। लंदन स्टॉक एक्सचेंज (LSE) में जारी इन बाण्ड्स के द्वारा HDFC ने 30 अरब रुपए (लगभग 45 करोड़ डॉलर) प्राप्त किए। इन बाण्ड्स की मैच्योरिटी 3 वर्ष की होगी तथा इनके द्वारा 8.33% की वार्षिक आय होगी। इन बाण्ड्स को हासिल करने के लिए चार गुना निवेशकों ने आवेदन किया था।

 उल्लेखनीय है कि इन “मसाला बाण्ड्स” को LSE में सूचीबद्ध (list) किया जाना ब्रेक्सिट (Brexit) की घटना के बाद भारत और ब्रिटेन के वित्तीय सम्बन्धों में एक ऐतिहासिक घटना माना जा रहा है। इन बाण्ड्स के निर्गम से हासिल धन से HDFC को विदेशी निवेशकों को अपनी ओर आकर्षित करने में मदद मिलेगी जबकि उसका ऋण प्रोफाइल भी समृद्ध होगा।

…………………………………………………………

Lt.Gen-Bipit-Rawat-2016

3) कौन भारतीय थलसेना (Indian Army) का नया उपप्रमुख (Vice Chief) होगा, जिनका नाम को केन्द्र सरकार ने 1 अगस्त 2016 को अपनी स्वीकृति प्रदान कर दी? – ले. जनरल बिपिन रावत

विस्तार: केन्द्र सरकार ने 1 अगस्त 2016 को ले. जनरल बिपिन रावत (Lt. General Bipin Rawat) का नाम भारतीय थलसेना के नए उप-प्रमुख (Vice Chief) के पद के लिए स्वीकृत कर दिया। वे अभी थलसेना की दक्षिण कमान के प्रमुख के रूप तैनात हैं तथा अपना नया पद 1 सितम्बर 2016 को ग्रहण करेंगे।

 वहीं ले. जनरल पी.एम. हरीज़ (Lt. Gen P M Hariz) को उनके स्थान पर दक्षिण कमान का नया प्रमुख नियुक्त किया गया है। इसी के साथ ले. जनरल ए.आर. प्रसाद (Lt. Gen A R Prasad) को थलसेना का नया सिग्नल ऑफीसर इन-चीफ (Signal officer-in-chief) नियुक्त किया गया।

…………………………………………………………

4) हैरी पॉटर (Harry Potter) श्रृंखला की नवीनतन तथा संभवत: अंतिम पुस्तक हाल ही में पूरी दुनिया में जारी की जाने वाली पुस्तक का क्या नाम है? – “Harry Potter and the Cursed Child”

विस्तार: हैरी पॉटर पात्र की रचनाकार ब्रिटिश लेखिका जे.के. राउलिंग (J.K. Rowling) की हैरी पॉटर श्रृंखला की आठवीं पुस्तक हाल ही में पूरी दुनिया में जारी कर दी गई। पूर्व की हैरी पॉटर पुस्तकों की भांति इस पुस्तक को लेकर भी पाठकों, विशेषकर बच्चों, में काफी रोमांच देखा गया।

 माना जा रहा है कि यह हैरी पॉटर श्रृंखला की अंतिम पुस्तक हो सकती है, क्योंकि इस सम्बन्ध में लेखिका जे.के. राउलिंग ने घोषणा भी की है।

 इस पुस्तक (“Harry Potter and the Cursed Child”) की खास बात यह है कि इसमें हैरी पॉटर के बाल्यकाल के बजाय उसकी युवावस्था दर्शायी गई है, इसमें उसके बच्चे भी हैं तथा जीवन में काफी बदला अंदाज है। उल्लेखनीय है कि इस श्रृंखला की इससे पूर्व अंतिम जारी पुस्तक के मुकाबले इसमें 19 वर्ष आगे का कालखण्ड वर्णित किया गया है।

…………………………………………………………

Parle-G-2016

5) पार्ले-जी (Parle-G) ब्राण्ड के लोकप्रिय बिस्कुट का उत्पादन करने वाली मुम्बई में स्थित 87-वर्ष पुरानी फैक्ट्री को हाल ही में बंद कर दिया गया। यह फैक्ट्री इतनी प्रसिद्ध थी कि इसके मोहल्ले के नाम पर ही इस कम्पनी का नाम रखा गया था। मुम्बई का यह मोहल्ला कौन सा है? – विले पार्ले (Vile Parle)

विस्तार: मुम्बई के विले पार्ले (Vile Parle) स्थित पार्ले की यह फैक्ट्री पार्ले-जी बिस्कुट बनाने वाली कम्पनी पार्ले प्रोडक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड (Parle Products Pvt. Ltd.) की पहली फैक्ट्री थी। 87 वर्ष तक उत्पादन करने के बाद इस फैक्ट्री को कम्पनी प्रबन्धन ने जुलाई 2016 के दौरान स्थायी रूप से बंद कर दिया। माना जा रहा है कि फैक्ट्री की कम उत्पादकता को देखते हुए इसे बंद किया गया है।

 1929 में शुरू की गई इस फैक्ट्री में ही पार्ले-जी नामक मशहूर बिस्कुट ब्राण्ड का उत्पादन सबसे पहले हुआ था।

 उल्लेखनीय है कि विले पार्ले के नाम पर ही कम्पनी का नाम पार्ले रखा गया था। यह फैक्ट्री पिछले कई दशकों से मुम्बई की एक प्रसिद्ध पहचान बनी हुई थी। लेकिन कम्पनी देश भर में फैले अन्य संयंत्रों में पार्ले-जी बिस्कुट का उत्पादन करती रहेगी।

…………………………………………………………

 

RBI-Bank-License-2016

1) भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) ने बैंक लाइसेंसों (Bank Licences) के सम्बन्ध में अपने अंतिम दिशानिर्देश (Final Guidelines) 1 अगस्त 2016 को जारी कर दिए। इन दिशानिर्देशों में उल्लिखित सर्वाधिक महत्वपूर्ण तथ्य क्या है? – अब सार्वभौमिक बैंक लाइसेंस (Universal bank licences) कभी भी प्रदान किए जा सकेंगे

विस्तार: RBI ने 1 अगस्त 2016 को बैंक लाइसेंसों से सम्बन्धित अपने दिशानिर्देश अपने अंतिम स्वरूप में जारी कर दिए। इनके अनुसार अब गैर-बैंकिंग वित्तीय कम्पनियाँ (non-banking financial companies – NBFCs), बैंकिंग क्षेत्र के क्वालिफाइड पेशेवर (qualified individuals) तथा कुछ निजी कम्पनियाँ जब चाहें बैंक लाइसेंस हासिल करने के लिए आवेदन कर सकेंगी। इस व्यवस्था को ऑन-टैप लाइसेंस व्यवस्था (on-tap licence system) के नाम से जाना जाता है। वहीं बड़े औद्यौगिक घरानों के बैंकिंग क्षेत्र में प्रवेश पर RBI ने रोक लगाने की बार भी कही है।

 उल्लेखनीय है कि इस दिशानिर्देशों से सम्बन्धित मसौदा दिशानिर्देश (draft guidelines) RBI ने 6 मई 2016 को जारी किया था।

 बैंक लाइसेंसों के लिए आवेदन करने के लिए ऐसी NBFCs को अनुमति प्रदान की गई है जिनका प्रबन्धन भारतीयों के हाथ में हो तथा जिनके पास संचालन का कम से कम 10 वर्ष का अनुभव हो। लेकिन ऐसे NBFCs को आवेदन की अनुमति नहीं होगी जिनमें बड़े औद्यौगिक घरानों की हिस्सेदारी हो तथा इसमें से 40% से अधिक परिसम्पत्तियाँ गैर-वित्तीय व्यवसाय से सम्बन्धित हों।

 इसके अलावा व्यक्तिगत पेशेवर भी लाइसेंस के लिए आवेदन कर सकेंगे लेकिन उनके पास बैंकिंग क्षेत्र का 10 वर्ष से अधिक का अनुभव होना चाहिए।

…………………………………………………………

2) भारत में गृह-वित्त के क्षेत्र में संलग्न सबसे बड़े निजी उपक्रम HDFC ने 1 अगस्त 2016 को एक नया मुकाम हासिल किया जब उसने दुनिया में अपनी तरह के पहले बाण्ड्स को लंदन स्टॉक एक्सचेंज (LSE) में जारी किया जिसका मूल्यवर्ग (Denomination) भारतीय रुपए है तथा इसमें विदेशी निवेशक निवेश कर सकेंगे। इस विशिष्ट प्रकार के बाण्ड को क्या लोकप्रिय नाम दिया गया है? – मसाला बाण्ड्स (Masala Bonds)

विस्तार: हाउसिंग डेवलपमेण्ट फाइनेंस कॉरपोरेशन (HDFC) इस प्रकार के मसाला बाण्ड्स (Masala Bonds) को जारी करने वाला दुनिया का पहला उपक्रम 1 अगस्त 2016 को बन गया। लंदन स्टॉक एक्सचेंज (LSE) में जारी इन बाण्ड्स के द्वारा HDFC ने 30 अरब रुपए (लगभग 45 करोड़ डॉलर) प्राप्त किए। इन बाण्ड्स की मैच्योरिटी 3 वर्ष की होगी तथा इनके द्वारा 8.33% की वार्षिक आय होगी। इन बाण्ड्स को हासिल करने के लिए चार गुना निवेशकों ने आवेदन किया था।

 उल्लेखनीय है कि इन “मसाला बाण्ड्स” को LSE में सूचीबद्ध (list) किया जाना ब्रेक्सिट (Brexit) की घटना के बाद भारत और ब्रिटेन के वित्तीय सम्बन्धों में एक ऐतिहासिक घटना माना जा रहा है। इन बाण्ड्स के निर्गम से हासिल धन से HDFC को विदेशी निवेशकों को अपनी ओर आकर्षित करने में मदद मिलेगी जबकि उसका ऋण प्रोफाइल भी समृद्ध होगा।

…………………………………………………………

Lt.Gen-Bipit-Rawat-2016

3) कौन भारतीय थलसेना (Indian Army) का नया उपप्रमुख (Vice Chief) होगा, जिनका नाम को केन्द्र सरकार ने 1 अगस्त 2016 को अपनी स्वीकृति प्रदान कर दी? – ले. जनरल बिपिन रावत

विस्तार: केन्द्र सरकार ने 1 अगस्त 2016 को ले. जनरल बिपिन रावत (Lt. General Bipin Rawat) का नाम भारतीय थलसेना के नए उप-प्रमुख (Vice Chief) के पद के लिए स्वीकृत कर दिया। वे अभी थलसेना की दक्षिण कमान के प्रमुख के रूप तैनात हैं तथा अपना नया पद 1 सितम्बर 2016 को ग्रहण करेंगे।

 वहीं ले. जनरल पी.एम. हरीज़ (Lt. Gen P M Hariz) को उनके स्थान पर दक्षिण कमान का नया प्रमुख नियुक्त किया गया है। इसी के साथ ले. जनरल ए.आर. प्रसाद (Lt. Gen A R Prasad) को थलसेना का नया सिग्नल ऑफीसर इन-चीफ (Signal officer-in-chief) नियुक्त किया गया।

…………………………………………………………

4) हैरी पॉटर (Harry Potter) श्रृंखला की नवीनतन तथा संभवत: अंतिम पुस्तक हाल ही में पूरी दुनिया में जारी की जाने वाली पुस्तक का क्या नाम है? – “Harry Potter and the Cursed Child”

विस्तार: हैरी पॉटर पात्र की रचनाकार ब्रिटिश लेखिका जे.के. राउलिंग (J.K. Rowling) की हैरी पॉटर श्रृंखला की आठवीं पुस्तक हाल ही में पूरी दुनिया में जारी कर दी गई। पूर्व की हैरी पॉटर पुस्तकों की भांति इस पुस्तक को लेकर भी पाठकों, विशेषकर बच्चों, में काफी रोमांच देखा गया।

 माना जा रहा है कि यह हैरी पॉटर श्रृंखला की अंतिम पुस्तक हो सकती है, क्योंकि इस सम्बन्ध में लेखिका जे.के. राउलिंग ने घोषणा भी की है।

 इस पुस्तक (“Harry Potter and the Cursed Child”) की खास बात यह है कि इसमें हैरी पॉटर के बाल्यकाल के बजाय उसकी युवावस्था दर्शायी गई है, इसमें उसके बच्चे भी हैं तथा जीवन में काफी बदला अंदाज है। उल्लेखनीय है कि इस श्रृंखला की इससे पूर्व अंतिम जारी पुस्तक के मुकाबले इसमें 19 वर्ष आगे का कालखण्ड वर्णित किया गया है।

…………………………………………………………

Parle-G-2016

5) पार्ले-जी (Parle-G) ब्राण्ड के लोकप्रिय बिस्कुट का उत्पादन करने वाली मुम्बई में स्थित 87-वर्ष पुरानी फैक्ट्री को हाल ही में बंद कर दिया गया। यह फैक्ट्री इतनी प्रसिद्ध थी कि इसके मोहल्ले के नाम पर ही इस कम्पनी का नाम रखा गया था। मुम्बई का यह मोहल्ला कौन सा है? – विले पार्ले (Vile Parle)

विस्तार: मुम्बई के विले पार्ले (Vile Parle) स्थित पार्ले की यह फैक्ट्री पार्ले-जी बिस्कुट बनाने वाली कम्पनी पार्ले प्रोडक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड (Parle Products Pvt. Ltd.) की पहली फैक्ट्री थी। 87 वर्ष तक उत्पादन करने के बाद इस फैक्ट्री को कम्पनी प्रबन्धन ने जुलाई 2016 के दौरान स्थायी रूप से बंद कर दिया। माना जा रहा है कि फैक्ट्री की कम उत्पादकता को देखते हुए इसे बंद किया गया है।

 1929 में शुरू की गई इस फैक्ट्री में ही पार्ले-जी नामक मशहूर बिस्कुट ब्राण्ड का उत्पादन सबसे पहले हुआ था।

 उल्लेखनीय है कि विले पार्ले के नाम पर ही कम्पनी का नाम पार्ले रखा गया था। यह फैक्ट्री पिछले कई दशकों से मुम्बई की एक प्रसिद्ध पहचान बनी हुई थी। लेकिन कम्पनी देश भर में फैले अन्य संयंत्रों में पार्ले-जी बिस्कुट का उत्पादन करती रहेगी।

…………………………………………………………

 

Agartala-Train-2016

6) कौन सा राजधानी नगर राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली (Delhi) से सीधी ट्रेन से जुड़ने वाला पूर्वोत्तर भारत (North-East India) का तीसरा राजधानी नगर बन गया जब यहाँ हाल ही में तैयार ब्रॉड-गेज सेक्शन का उद्घाटन 31 जुलाई 2016 को किया गया? – अगरतला (त्रिपुरा)

विस्तार: त्रिपुरा (Tripura) की राजधानी अगरतला (Agaratala) भारत के रेलवे मानचित्र पर सही मायने पर तब जगह बनाने में सफल हुई जब केन्द्रीय रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने यहाँ से चलकर आनंदविहार (दिल्ली) पहुँचने वाली सीधी रेलगाड़ी त्रिपुरा सुंदरी एक्सप्रेस (Tripura Sundari Express) को 31 जुलाई 2016 को झण्डी दिखाकर रवाना कर दिया। यह साप्ताहिक ट्रेन अगरतला और दिल्ली के बीच की 2,480 किलोमीटर की दूरी को लगभग 47 घण्टे में पूरा करेगी।

 इसके साथ ही अगरतला उत्तरपूर्व भारत का तीसरा राजधानी नगर हो गया है जिसका राष्ट्रीय राजधानी से सीधा जुड़ाव है। इससे पहले सिर्फ असम (Assam) की राजधानी गुवाहाटी (Guwahati) और अरुणाचल (Arunachal) की राजधानी ईटानगर (Itanagar) का दिल्ली से सीधी ट्रेन से जुड़ाव है। उत्तरपूर्व भारत की चार राजधानियाँ – शिलांग (मेघालय), कोहिमा (नागालैण्ड), इम्फाल (मणिपुर) और आइजॉल (मिज़ोरम), अभी तक देश के रेल नक्शे पर नहीं आईं हैं।

 इस अवसर पर रेल मंत्री ने यह घोषणा की कि अगरतला-सबरूम (Agartala-Sabroom) ब्रॉड-गेज सेक्शन स्थापित करने की 3,351 करोड़ रुपए की 112 किमी. लम्बी परियोजना का काम भी तेजी से चल रहा है तथा इसे मार्च 2018 तक पूरा कर लिया जायेगा।

 उल्लेखनीय है कि अगरतला-सबरूम ब्रॉड-गेज परियोजना बांग्लादेश (Bangladesh) से रेल सम्बन्ध स्थापित करने की एक अहम परियोजना है क्योंकि सबरूम (Sabroom) से बांग्लादेश के प्रमुख बंदरगाह नगर चिटगाँव (Chittagong) की दूरी मात्र 74 किलोमीटर है।

(Photo Courtesy : Indian Express)

……………………………………………………..

7) केन्द्रीय रेल मंत्री सुरेश प्रभु (Suresh Prabhu) ने 31 जुलाई 2016 को अगरतला (Agartala) के रास्ते भारत को बांग्लादेश से जोड़ने वाली 15.06 किलोमीटर लम्बी एक महात्वाकांक्षी परियोजना का शिलान्यास किया। इस परियोजना के तहत बांग्लादेश के किस नगर को भारत से जोड़ा जायेगा? –अखौरा

विस्तार: त्रिपुरा की राजधानी अगरतला (Agartala) और बांग्लादेश के नगर अखौरा (Akhaura) को जोड़ने वाली 15.06 किलोमीटर लम्बी रेल ट्रैक परियोजना का शिलान्यास रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने अगरतला में आयोजित एक कार्यक्रम में किया। इस अवसर पर बांग्लादेश के रेल मंत्री मो. मुजिबुल हक भी मौजूद थे।

 इस रेल लिंक के द्वारा अगरतला के रास्ते कोलकाता और बांग्लादेश का रेल जुड़ाव हो जायेगा। दोनों देशों के पर्यटकों को सुविधा के अलावा इससे परस्पर द्विपक्षीय व्यापार को भी मजबूत करने में मदद मिलेगी। इस परियोजना में चूंकि भूमि अधिग्रहण मुख्य समस्या के रूप में सामने आ रही है इसलिए इस रेल लिंक को पूरी तरह से उपरगामी (elevated) बनाया जायेगा।

……………………………………………………..

8) जुलाई 2016 के दौरान केन्द्र सरकार द्वारा जारी एक विज्ञप्ति के अनुसार किस महत्वपूर्ण कमान को सूचना के अधिकार (Right To Information Act – RTI) की परिधि से बाहर कर दिया गया है जिससे वह इस चुनिंदा सूची में शामिल होने वाली नवीनतम प्रविष्टि बन गया है? –स्ट्रैटिजिक फोर्सेज़ कमाण्ड (Strategic Forces Command)

विस्तार: राष्ट्रीय कमान प्राधिकरण (National Command Authority – NCA) के अभिन्न अंग स्ट्रैटिजिक फोर्सेज़ कमाण्ड (Strategic Forces Command) को हाल ही में सूचना के अधिकार कानून, 2005 (RTI Act, 2005) में वर्णित दूसरी अनुसूची (Second Schedule) में डाल दिया गया है जिसके चलते यह कमाण्ड स्वत: सूचना के अधिकार कानून के प्रावधानों की परिधि से बाहर हो गई है। उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय हितों को ध्यान में रखते हुए RTI के प्रावधानों के तहत सुरक्षा तथा खुफिया संस्थाओं को बाहर रखे जाने का प्रावधान है।

 उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय कमान प्राधिकरण (NCA) की कार्यकारी परिषद (Executive Council), जिसका नेतृत्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (National Security Adviser) करते हैं, राजनीतिक परिषद (Political Council) को अत्यंत महत्वपूर्ण सूचनाएं प्रदान करती है। इन्हीं सूचनाओं के आधार पर राजनीतिक परिषद परमाणु हमला करने के बारे में फैसला लेती है। राजनीतिक परिषद का नेतृत्व प्रधानमंत्री (Prime Minister) करते हैं।

 जहाँ तक इस सम्बन्ध में स्ट्रैटिजिक फोर्सेज़ कमाण्ड की भूमिका की बात है तो राष्ट्रीय कमान प्राधिकरण के निर्देशों का अनुपालन उसके द्वारा किया जाता है। स्ट्रैटिजिक फोर्सेज़ कमाण्ड का नेतृत्व एयर मार्शल (ले. जनरल) के समतुल्य अधिकारी द्वारा किया जाता है।

 इस समस्त प्रणाली को इस प्रकार से तैयार किया गया है कि परमाणु हथियारों तक पहुँच नागरिक नियंत्रण (civilian control) में ही रहे।

 अन्य प्रमुख एजेंसियां जिन्हें RTI की परिधि से बाहर रखा गया है, हैं – खुफिया ब्यूरो (IB), रिसर्च एण्ड एनालिसिस विंग (RAW), राजस्व से सम्बन्धित खुफिया निदेशालय (Directorate of Revenue Intelligence), विशेष सीमांत बल (Special Frontier Force), सीमा सुरक्षा बल (BSF), राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (NSG) तथा असम राइफल्स।

……………………………………………………..

Luke-Aikins-2016

9) अमेरिका के उस खतरों के खिलाड़ी का क्या नाम है जो बिना पैराशूट के 25,000 फीट की ऊँचाई से कूदने वाले दुनिया के पहले व्यक्ति बन गए? – ल्यूक ऐकिन्स (Luke Aikins)

विस्तार: 18,000 से अधिक बार कूदने वाले अमेरिका (US) के ल्यूक ऐकिन्स (Luke Aikins) 30 जुलाई 2016 को उस समय चर्चा में आ गए जब उन्होंने इस दिन एक बेहद खतरनाक कारनामे के तहत बिना किसी पैराशूट की मदद के 25,000 फीट की ऊँचाई से कूद लगाई। वे नीचे लगे एक सेफ्टी नेट (safety net) में गिरे।

 42-वर्षीय ऐकिन्स ने अपनी यह जम्प दक्षिण कैलीफोर्निया (California, US) की सिमी वैली (Simi Valley) में लगाई तथा इस कूद को फॉक्स टेलीविज़न पर सीधा प्रसारित भी किया गया था। आकाश से धरती के करीब आने में उन्हें लगभग 2 मिनट का समय लगा तथा इस दौरान उन्होंने 193 किलोमीटर प्रति घण्टा की अधिकतम गति हासिल की।

 वे यू.एस. पैराशूट एसोसिएशन (US Parachute Association) में सुरक्षा तथा प्रशिक्षण सलाहकार हैं।

……………………………………………………..

10) किस टीम ने प्रो कबड्डी लीग (Pro Kabaddi League) के चौथे संस्करण का फाइनल 31 जुलाई 2016 को जीतकर देश की इस सबसे प्रतिष्ठित पेशेवर कबड्डी लीग का खिताब दूसरी बार जीत लिया? – पटना पारेट्स (Patna Pirates)

विस्तार: गत विजेता पटना पाइरेट्स (Patna Pirates) ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 31 जुलाई 2016 को प्रो कबड्डी लीग (PKL) के चौथे संस्करण (season 4) का खिताब फाइनल में जयपुर पिंक पैंथर्स (Jaipur Pink Panthers) को पराजित कर जीत लिया।

 इस खिताबी जीत के साथ पटना पाइरेट्स पहली टीम बन गई है जिसने प्रो कबड्डी लीग का खिताब दूसरी बार जीता हो।

 प्रो कबड्डी लीग का यह फाइनल हैदराबाद के गच्चीबाओली इंडोर स्टेडियम (Gachibowli Indoor Stadium) में खेला गया था। इसमें पटना पाइरेट्स ने जयपुर पिंक पैंथर्स को 37-29 से पराजित किया।

 फाइनल में शानदार प्रदर्शन कर 17 अंक बटोरने वाले परदीप नरवाल (Pardeep Narwal) को फाइनल के सर्वश्रेष्ठ रेडर (Best Raider) का खिताब दिया गया जबकि फाइनल के सर्वश्रेष्ठ डिफेंडर (Best Defender) का खिताब भी विजेता टीम के ही खिलाड़ी होदी ऑश्टोरक (Hodi Oshtorak) को प्रदान किया गया।

……………………………………………………..

 

http://www.churugurukul.com/current-affairs-29-30-july-2016